Sleeping Tips : छोड़ दें ये 5 आदतें, बिस्तर पर जाते ही आ जाएगी नींद

Sleeping Tips:-  सेहत के लिए मानसिक और शारीरिक वर्कआउट करना या खुद को एक्टिव रखना जितना जरूरी होता है, उतना ही जरूरी रात में भरपूर नींद लेना भी है. रात की नींद पूरी हो तो हम अगले दिन ताजगी महसूस करते हैं और किसी भी काम को आसानी से कर पाते हैं और मानसिक रूप से भी तरोताजा महसूस करते हैं  लेकिन आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव और एंजायटी कई बार नींद को आखों से गायब कर देती हैं। अगर नींद ना आने की समस्‍या आपको है तो इसका असर हमारी सेहत पर पड़ने लगता है. हालांकि, अगर आप अपनी लाइफ स्‍टाइल से कुछ बुरी आदतों छोड दें तो धीरे-धीरे इस परेशानी से छुटकारा पाई जा सकती है। यहां हम बता रहे हैं कि आपकी किन आदतों की वजह से रात की नींद प्रभावित होती है।

Is It Good to Sleep Immediately after Eating?

इन आदतों की वजह से नहीं आती नींद –

1      सोने से पहले अधिक खाना –
स्‍लीप बेटर लिव बेटर के मुताबिक,  कई लोग डिनर लेट नाइट करते हैं और भर पेट खाने के बाद बिस्‍तर पर सोने चले जाते हैं, लेकिन आपकी ये आदत आपकी नींद को काफी प्रभावित करती है. प्रयास करें कि सोने से कुछ घंटे पहले खाएं और रात में ज्‍यादा खाने से बचें।

2      इलेक्ट्रॉनिक चीजें लेकर सोना –
अगर आप रात में टीवी, मोबाइल या लैपटॉप आदि देखते हैं या आपके बेड के आसपास इलेक्‍ट्रॉनिक चीजें रहती हैं तो ये आपकी नींद को डिस्‍टर्ब कर सकते हैं. इसलिए बेहतर होगा कि आप बेडरूम से इन चीजों को आज ही हटाएं और मोबाइल को बंद कर के सोने जाएं।

3      दिन में नींद पूरी करना –
अगर आप दिन के समय आधे घंटे सोना पसंद करते हैं तो इसमें परेशानी नहीं है, लेकिन अगर आप दिन के समय नींद पूरी करना चाहते हैं तो बता दें कि इस आदत की वजह से आपकी रात की नींद प्रभावित हो सकती है. यह स्‍लीप पैटर्न को डिस्‍टर्ब कर देता है.

4      सोने से पहले कैफीन या एल्‍कोहल का सेवन –
अगर आप रात के वक्‍त एक कप कॉफी, चाय या एल्‍कोहल पीना पसंद करते हैं तो बता दें कि आपकी ये आदत बाद में नींद ना आने की परेशानी की सबसे बड़ी वजह बन सकता है, इसलिए बेहतर होगा कि आप शाम के बाद इनका सेवन  ना करें।

5      सोने से पहले तक काम करना –
रात में सोने का एक समय निर्धारित करें और सोने से करीब आधा घंटा पहले बिस्‍तर पर चले जाएं. धीरे धीरे आपकी बॉडी खुद ब खुद नींद महसूस करने लगेगी,  इस तरह देर रात एक्विव ना रहें और सोने का माहौल बनाना शुरू कर दें. शांत म्‍यूजिक आपके मन को शांत करने में मदद कर सकता है।

ऐसी ही सेहत से जुडी जानकारी के लिए betultalks.com को फालो करे –

बुजुर्गों की देखभाल करते समय इन 5 बातों का रखें ध्यान, बीमारिया रहेगी दूर

Take Bath In Fever – बुखार में नहाना चाहिए या नहीं ? डॉक्टर से जानें