SBI ने निवेशकों को दिया बड़ा तोहफा, HDFC ने फिर दिया जोर का झटका !

MARKET CAP :- देश की शीर्ष 10 सबसे मूल्यवान कंपनियों में से छह का संयुक्त बाजार मूल्यांकन पिछले सप्ताह 1.30 लाख करोड़ रुपये बढ़ गया। इस दौरान भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और आईसीआईसीआई बैंक को सबसे ज्यादा फायदा हुआ। भारतीय स्टेट बैंक का मूल्यांकन 45,158.54 करोड़ रुपये बढ़कर 7,15,218.40 करोड़ रुपये हो गया. ICICI बैंक का बाजार मूल्यांकन 28,726.33 करोड़ रुपये बढ़कर 7,77,750.22 करोड़ रुपये हो गया. SBI के शेयरों में उछाल से निवेशकों को भारी मुनाफा हुआ है। (MARKET CAP) आपको बता दें कि एसबीआई के शेयर की कीमत 800 रुपये के पार हो गई है। पिछले हफ्ते बीएसई सेंसेक्स 641.83 अंक या 0.87 फीसदी चढ़ा।

जानिए अपने बैंक State Bank of India की कहानी, कैसे कब और किसने की इसकी  शुरुआत | Who is the founder of SBI When was SBI established and  Nationalised What is SBI

इन कंपनियों में भी बढ़त देखने को मिली – MARKET CAP

भारती एयरटेल का बाजार पूंजीकरण 20,747.99 करोड़ रुपये बढ़कर 7,51,406.35 करोड़ रुपये हो गया। समीक्षाधीन अवधि में आईटीसी का बाजार पूंजीकरण 18,914.35 करोड़ रुपये बढ़कर 5,49,265.32 करोड़ रुपये हो गया। भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का बाजार पूंजीकरण 9,487.5 करोड़ रुपये बढ़कर 6,24,941.40 करोड़ रुपये हो गया। इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 7,699.86 करोड़ रुपये बढ़कर 5,93,636.31 करोड़ रुपये हो गया।

Programming money: Purposeful potential?

यह भी पढ़े : Aadhaar Card से जुड़ा फोन नंबर खो जाए तो क्या करें? जाने दूसरे नंबर को लिंक करने का तरीका

रिलायंस ने निवेशकों को निराश किया – MARKET CAP

दूसरी ओर, रिलायंस इंडस्ट्रीज का मूल्यांकन 26,115.56 करोड़ रुपये घटकर 19,64,079.96 करोड़ रुपये हो गया। एचडीएफसी बैंक का मूल्यांकन 16,371.34 करोड़ रुपये घटकर 11,46,943.59 करोड़ रुपये हो गया। शीर्ष 10 कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे मूल्यवान कंपनी रही।

HDFC Bank Gold Loan Type And Intrest All Details - Free Online Update

यह भी पढ़े : PAN-Aadhaar Link : अब तक नहीं किया पैन-आधार से लिंक? तो पढ़ लें ये जरूरी नियम

विदेशी निवेशकों ने पैसा निकाला – MARKET CAP

मॉरीशस के साथ भारत की कर संधि में बदलाव और अमेरिकी बांड पैदावार में निरंतर वृद्धि के कारण विदेशी निवेशकों ने अप्रैल में घरेलू इक्विटी से 6,300 करोड़ रुपये निकाले। डिपॉजिटरी डेटा के मुताबिक, मार्च में 35,098 करोड़ रुपये और फरवरी में 1,539 करोड़ रुपये का भारी निवेश हुआ। आंकड़ों से पता चलता है कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने इस महीने (26 अप्रैल तक) भारतीय इक्विटी से 6,304 करोड़ रुपये निकाले हैं।

यह भी पढ़े : YouTube से हर महीने होगी अच्‍छी कमाई, जानिए क्या हैं नियम