Retirement Age Increased : बड़ी खबर! बढ़ सकती है रिटायरमेंट की उम्र, समिति ने CM को भेजा पत्र

Retirement Age Increased, Retirement Age , Increased, DA HIKE, MP Employees DA Hike 2024 , Retirement Age Increased 2024 , CM/CS , Retirement Age Will Increase, MP RETIREMENT AGE WILL INCREASED, MP RETIREMENT AGE, MP RETIREMENT AGE 2024, MP RETIREMENT AGE NEWS, MP RETIREMENT AGE NEWS UPDATEMP NEWS, CM NEWS,

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

Retirement Age Increased :- मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों अधिकारियों के लिए अच्छी खबर है। लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश के कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयु बढ़ाई जा सकती है। खबर है कि मोहन यादव सरकार प्रदेश के कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु में 3 साल की वृद्धि कर सकती है। (Retirement) इसके लिए मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी कल्याण समिति ने मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव को पत्र लिखा है, जिसमें कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयु सीमा में एकरूपता लाने की बात कहीं गई है (Retirement Age Increased)

UP Govt Issues New Guidelines For Female Workers — No Forced Night Shift, Free Home Drop, If

सीएम को समिति ने लिखा पत्र (Retirement Age Increased)

जानकरी के अनुसार, मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी कल्याण समिति ने शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति की आयु सीमा में एकरूपता लाने के लिए सीएम डॉ. मोहन यादव को पत्र लिखा है, जिसमें कहा है कि एमपी विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा द्वारा लाए गए संकल्प पत्र 2023 में सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट की उम्र में एकरूपता लाने का बिंदु शामिल था, ऐसे में मप्र शासन को शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति की आयु 62 साल से बढ़कर 65 साल करने पर अब विचार करना चाहिए। बता दे कि वर्तमान में प्राध्यापक, चिकित्सक, स्टाफ नर्स एवं अन्य सेवाओं में सेवानिवृत्ति की आयुसीमा 65 साल है।

The Social Welfare Department, Women & Child Development in collaboration with Department of Health & Family Welfare, PGIMER, GMCH-32, Home Science College, and the Department of AYUSH, is pleased to announce a

सरकार भी कर रही है सेवानिवृत्ति आयु में एकरूपता लाने पर विचार (Retirement Age Increased)

राज्य कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष रमेश शर्मा ने अपने पत्र में पदोन्नति नहीं होने की वजह से सरकारी विभागों में कैडर गड़बड़ाने और कई विभागों में बड़ी संख्या में पद खाली होने की बात भी कहीं हैं। सुत्रों की मानें तो लोकसभा चुनाव से पहले राज्य सरकार खुद सेवानिवृत्ति आयु में एकरूपता लाने की तैयारी में है, इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने वित्त विभाग से अभिमत मांगा है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो वित्त से अभिमत आने के तत्काल बाद प्रस्ताव को कैबिनेट में लाकर मंजूरी दी जा सकती है। हालांकि अंतिम फैसला सीएम डॉ मोहन यादव को ही लेना है।

Hyderabad Ends Work From Home! State Govt Wants IT Employees To Return To Office – Trak.in – Indian Business of Tech, Mobile & Startups

शिवराज सरकार के समय भी रिटायरमेंट एज बढ़ाने को लेकर हुई थी चर्चा (Retirement Age Increased)

दरअसल, वर्तमान में राज्य के कर्मचारियों कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष है, आखिरी बार 2018 के विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन शिवराज सरकार ने सेवानिवृत्ति की आयु को 60 से बढ़ाकर 62 साल कर दिया था। इसके बाद वित्तीय स्थिति ठीक ना होने और सेवानिवृत्ति पर कर्मचारियों को मप्र शासन को एक मुश्त भुगतान की राशि देने के चलते फिर 2022-23 में सेवानिवृत्ति की आयु सीमा 62 से बढ़ाकर 63 करने पर चर्चा हुई थी।

इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने एक प्रस्ताव पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास भेजा भी था लेकिन भर्ती परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं ने इसका विरोध किया था वह अधर में ही लटक गया।अब एक बार फिर लोकसभा चुनाव को देखते हुए सरकार कर्मचारियों के रिटायरमेंट एज को 3 साल बढ़ाने की तैयारी में है। अगर रिटायरमेंट एज बढ़ती है तो सरकारी कर्मचारियों के साथ राज्य सरकार को भी बड़ा लाभ होगा, क्योंकि लोकसभा चुनाव से पहले सरकार पर कोई वित्तीय भार नहीं पड़ेगा, क्योंकि 2023 में रिटायर होने वाले कर्मचारियों को एकमुश्त राशि नहीं देनी पड़ेगी यानि वित्तीय लाभ ही मिलेगा।

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

Related Articles

Back to top button