Pandit Pradeep Mishra Katha :आस्था की बारिश भी शिवभक्तों का हौसला नही कर पाई कम,सवा लाख से अधिक श्रोता पहुंचे

पंडित प्रदीप मिश्रा की मां ताप्ती शिवपुराण कथा का व्दितीय दिवस

Pandit Pradeep Mishra Katha-पंडित प्रदीप मिश्र की मां ताप्ती शिवपुराण कथा हर मामले में अभूतपूर्व होती जा रही है। 12 दिसंबर से आरंभ कथा में पहले दिन ही जहां रिकार्ड तोड़ एक लाख से अधिक शिवभक्त पहुंचे वहीं ठीक 4 बजे कथा संपन्न होने के बाद शुरू हुई बूंदाबूदी देर शाम तक तेज वर्षा में बदल गई। सैंकडों वाहन पार्किंग में फंस गए और फोरलेन पर खडे हजारों वाहनों से जाम लगा रहा। स्थिति को देखते हुए मां ताप्ती शिवपुराण आयोजन समिति ने पंडित प्रदीप मिश्रा से उनके आवास पर भैंट कर स्थिति बताई। पंडित जी ने कहा कि यह वर्षा पूरे बैतूल के लिए अमृतमय है क्योंकि यह ताप्ती मैया की कृपा है और शिव का अभिषेक है।

उन्होंने कहा कि बुजुर्गों आदि को दिक्कत न हो इसलिए मैं उन्हें टीवी-मोबाइल पर ही देखने की अपील जारी कर देता हूं लेकिन पंडित जी ने यह भी आश्वासन दिया कि कथा के समय एक बूंद पानी अब नहीं आएगा। आज भी पंडित जी की बात सच साबित हुई और मौसम विभाग की सूचना के बाद बारिश नहीं हुई।

आज शिवपुराण के व्दितीय दिवस कथा ठीक समय पर दोपहर एक बजे आरंभ हुई और कल प्रथम से ज्यादा श्रध्दालु कथास्थल पर मौजूद थे। पुलिस प्रशासन व्दारा फोरलेन पर वाहनों के कड़े प्रतिबंध के बावजूद लोग कई किमी पैदल चल कर कथास्थल पहुंचे।

किलेदार परिवार और आयोजन समिति ने शानदार व्यवस्थाएं की : पंडित प्रदीप मिश्रा

शिवपुराण के आरंभ में पंडित प्रदीप मिश्र ने उन सभी शिवभक्तों को धन्यवाद दिया जो इतने पानी में भी रात भर रूके रहे और भजन गाते रहे। इसके साथ ही किलेदार परिवार की भी मेहनत और विशाल हदय को सराहा कि उन्होंने आयोजन की सारी व्यवस्थाएं संभाली। कल इतने बारिश में भोजन और आवास की व्यवस्था को न सिर्फ दुरूस्त किया बल्कि पूरे कथास्थल को कुछ घंटों के अंदर ही वापस कथा लायक बना दिया।

विधायकव्दय ने संभाला था मोर्चा

गौरतलब है कि कल पानी बारिश और कीचड़ के बीच जब कथास्थल पर हजारों लोग मौजूद थे । तब बारिश और कीचड़ में श्रध्दालुओं को दिक्कत होने की सूचना मिलते ही बैतूल और आमला के दोनों विधायक कथास्थल पहुंचे। आमला विधायक डा योगेश पंडागरे जूते उतारकर कीचड़ में डोम तक पहुंचे व टैक्टर में खुद बैठकर काफी भक्तों को बाहर निकाला। बैतूल विधायक निलय डागा भी पहुंचे और परसोडा के अपने वेयर हाउस में हजारों भक्तों के लिए आवास नाश्ते, गर्म पानी की व्यवस्था की। दोनों विधायक देर रात तक कथास्थल पर जमे रहे और व्यवस्थाएं दुरूस्त करते रहे।

देखे वीडियो में अधर्मियों को मां ताप्ती और भोलेनाथ सद्बुद्धि दे: जित्तू कपूर

अधर्मियों को मां ताप्ती और भोलेनाथ सद्बुद्धि दे: जित्तू कपूर

माँ ताप्ती परिक्रम समिति के अध्यक्ष जितेंद्र कपूर ने शिव पुराण में आ रही विपदाओं को लेकर एक दिन का मौन व्रत रखा | मंगलवार को उन्होंने मौन व्रत तोड़ बाबा महाकाल के दर्शन किए और कहा कि यह आयोजन बैतूल का एक अनुकरणीय यज्ञ यहां सपन्न हो रहा है। सोमवार शाम को मां ताप्ती प्रसन्न हो गई और बरस गई। कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा इस कथा में विघ्न डालने का काम हो रहा है तरह तरह की विपदाओ का सामना करना पड़ रहा है ये सब बातें उन्होंने सुबह 6 बजे जब सुनी तो उनका मन व्यथित हो गया। अभी तक सुना था धर्म की जय हो अधर्म का नाश हो। कुछ लोग धर्म का नाश करने के लिए उतारू हो गए। ऐसे अधर्मियों को मां ताप्ती और भोलेनाथ सद्बुद्धि दे इसलिए मैने यह मौन व्रत रखा। बैतूल ज़िले का ये आयोजन है और चाहे कोई कितना विघ्न डाल ले माँ ताप्ती के आशीर्वाद से सब सही हो रहा है

मां ताप्ती तो हमारा जीवन है इसे कैसे छोड़ दें : पंडित प्रदीप मिश्र

मां ताप्ती शिवपुराण कथा के व्दितीय दिवस पंडित प्रदीप मिश्र ने कहा कि मां ताप्ती हमारा जीवन है जान है उसे कैसे छोड़ दें। लोग भले ही हमें दिग्भ्रमित करें कि न शिव है न गणेश हैं और यह भी कहें कि अगरबत्ती नहीं लगाना चाहिए लेकिन आपको ध्यान नहीं देना है। आपको तो मंदिर जाना है और एक नहीं चार अगरबत्ती लगाना है। धर्मांतरण पर कटाक्ष करते हुए पंडित जी ने शिवभक्तों को सावधान किया। उन्होंने भगवान से जुड़े रहने का शानदार उदाहरण देते हुए बताया कि कोई अंधा कभी गिरता नहीं और न ही उसकी हड्डी टूटती है गिरने से। क्योंकि वो लाठी का सहारा लेकर ठोंककर संभल कर चलता है। यदि हम भी शिव का सहारा लेकर संभलकर चलेंगे तो गिरने का सवाल नहीं।
जिस तरह ठंड या लू से बचने के लिए हम कान बंद कर लेते हैं वैसे ही हमें अधर्मियों के बोल सुनने की बजाए कान बंद कर लेना चाहिए। बैतूल के लोगों की प्रशंसा करते हुए पंडित जी ने कहा कि यहां के लोगों ने ताप्ती मैया का जल पिया है इसलिए बहकावे में नहीं आ सकते।

पंडित प्रदीप मिश्र के भजन पर शिवभक्त झूमते रहे।
आज व्दितीय दिवस के कथा समापन पर आमला विधायक डा योगेश पंडागरे, राजीव खंडेलवाल, हेमंत देशमुख, ताप्ती परिक्रमा समिति के अध्यक्ष जितेन्द्र कपूर के साथ मुख्य यजमान संजय बाथरे, रश्मि बाथरे के साथ राजा ठाकुर आदि भक्तों ने भोलेनाथ और व्यासपीठ की आरती और पूजन किया।