MP News : मां के शव के साथ एक साल से कमरे में कैद रहीं बेटियां…

varanasi news, today varanasi news, daughter found living with mother dead body, daughter kept dead body of mother for one year, varanasi daughters spends one year with mother dead body, varanasi police, varanasi lanka police, today uttar pradesh news, up latest news, up news in hindi Today Varanasi News

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

MP News: धार्मिक नगरी वाराणसी से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां दो बेटियां अपनी मां के शव के साथ एक साल से रह रही थीं। जब परिजन पहुंचे और गेट नहीं खुला तो पुलिस को बुलाया गया। पुलिस जबरन दरवाजा तोड़कर अंदर घुसी तो दोनों बेटियां अपनी मां का कंकाल लेकर बैठी थीं. दोनों ने पुलिस को बताया कि उनकी मां की एक साल पहले मौत हो गई थी, लेकिन अंतिम संस्कार के लिए पैसे नहीं थे.MP News फिलहाल पुलिस ने कंकाल को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. दोनों बेटियों से पूछताछ की जा रही है.

पूरा मामला लंका थाना क्षेत्र के मदरवा गांव का है. मदरवा निवासी ऊषा त्रिपाठी की 8 दिसंबर 2022 को मौत हो गई थी। जिसके बाद बेटियों ने उनका दाह संस्कार नहीं किया और एक कमरे में बंद कर दिया। बुधवार को जब उनके एक रिश्तेदार घर पहुंचे तो उन्हें पता चला कि उषा त्रिपाठी की मौत हो चुकी है और उनका अंतिम संस्कार भी नहीं किया गया है. इसके बाद पड़ोसी भी दंग रह गए. पुलिस को सूचना दी गयी. मौके पर पहुंची पुलिस जब जबरन घर में दाखिल हुई तो दोनों बेटियां कंकाल के साथ बैठी मिलीं.

MP News : मां के शव के साथ एक साल से कमरे में कैद रहीं बेटियां…

पैसे के अभाव में अंतिम संस्कार नहीं कर सके
पुलिस ने दोनों बेटियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि 8 दिसंबर 2022 को बीमारी के कारण मां की मौत हो गई थी। पैसे के अभाव में अंतिम संस्कार नहीं कर सके। पुलिस ने दोनों से यह भी पूछा कि एक साल तक घर का खर्च कैसे चला. तो उन्होंने बताया कि उन्होंने घर का सामान और गहने बेचकर खाने का इंतजाम किया. MP News फिलहाल पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि उषा त्रिपाठी की मौत प्राकृतिक थी या हत्या. लंका थाना प्रभारी ने बताया कि कंकाल का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। रिपोर्ट के बाद ही इसका खुलासा हो सकेगा। उन्होंने कहा कि दोनों लड़कियां मानसिक रूप से बीमार भी लग रही हैं.

पुलिस कई एंगल से जांच में जुटी
पड़ोसियों के मुताबिक, उषा त्रिपाठी के पति की दो साल पहले मौत हो गई थी। बड़ी बेटी पल्लवी साधु हैं और 27 साल की हैं, जबकि दूसरी बेटी ग्लोबल त्रिपाठी 10वीं कक्षा की छात्रा हैं। पुलिस पूरे मामले की कई एंगल से जांच कर रही है. दोनों लड़कियों की एक साल तक पढ़ाई कैसे चली, घर का खर्च कैसे चला, उनकी मौत स्वाभाविक थी या हत्या। पुलिस इन सभी सवालों की जांच में जुटी है.

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

Related Articles

Back to top button