Jaya Kishori : बुरी आदतों को कैसे पहचानें? – जया किशोरी

Jaya Kishori : कौन सी आदतें बुरी हैं और कौन सी अच्छी, ये पहचानना कई बार बहुत मुश्किल होता है. जैसे कई लोग शराब-सिगरेट पीने को ठीक मानते हैं. वो तर्क देते हैं कि लिमिट में अगर ये किया जाए तो ठीक है. लेकिन बहुत सारे लोग ऐसे भी हैं जो हर तरह के नशे को बुरी आदत मानते हैं. Jaya Kishori ऐसे में कथावाचक और मोटिवेशनल स्पीकर जया किशोरी (Jaya Kishori) ने बताया है कि आप अपनी बुरी आदतों को कैसे पहचान सकते हैं. मोटिवेशनल स्पीकर जया किशोरी (Jaya Kishori) जीवन से जुड़े तमाम पहलुओं पर अपनी बात रखती रहती हैं. Jaya आइए अब जया किशोरी ने क्या कहा है, उसके बारे में जानते हैं.

jaya kishori biography education earning Wiki Age Bhajan Husband Family  Fees Net networth apmp] | Jaya kishori News: जया किशोरी ने कितनी की है  पढ़ाई? यह जानकर आप रह जाएंगे हैरान

बुरी आदतों को कैसे पहचानें? Jaya Kishori
जया किशोरी (Jaya Kishori) ने कहा कि कामयाबी होना चाहते हैं तो आपको अपनी बुरी आदतों को छोड़ना होगा. अब बड़ा सवाल है कि बुरी आदतें कौन सी होती हैं क्योंकि हर इंसान के लिए बुरी आदतों की परिभाषा अलग होती है. किसी को तो बुरी आदत बुरी लगती ही नहीं है. वो उन्हें अपनी हैबिट लगती है. उनके लिए वह एक आनंद की तरह होता है.

Jaya Kishori : बुरी आदतों को कैसे पहचानें? – जया किशोरी

कामयाबी होने के क्या करें? Jaya Kishori
जया किशोरी ने आगे कहा कि लेकिन जो चीजें कामयाब होने के रास्ते में या बीच में आती हैं, जो बाधा बनती हैं, आपको आगे बढ़ने से रोकती हैं वो आपकी बुरी आदतें हैं. तो आप ध्यान दीजिए कि ऐसी कौन सी हैबिट है जो आपको कामयाबी होने से रोक रही है. और जब पहचान लें तो ऐसी आदतों को जल्द से जल्द छोड़ दें. अपने से अलग करें.

Jaya Kishori Ji Biography in hindi

किसको खुश रखना चाहिए? Jaya Kishori
उन्होंने आगे कहा कि दुनिया को खुश करने के पीछे मत भागो. उसको खुश करने के पीछे भागो कि मेरे हर काम को करने से वो कितना खुश होता है. हर काम के करने से पहले सोचें कि भगवान को ये कैसा लगेगा. अगर आप ऐसे सोचना शुरू कर देंगे तो पाप कर्म से जरूर बच जाएंगे. इसलिए कोई भी काम बहुत सोच-विचार के बाद ही करें.

Pitru Paksha 2023 : पितृ पक्ष में इन बातो का रखे ध्यान, ये 16 दिन हैं बेहद खास

Ganesh Chaturthi 2023 : भगवान गणेश को क्यों प्रिय हैं मोदक? जानिए