Gas Ke Gharelu Upay – ज्यादा खाने की वजह से पेट में बन गई है गैस? तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

Gas Ke Gharelu Upay अपच का मतलब है ख़राब पाचन. आयुर्वेद में इसे ‘अपाच’ कहा जाता है। अपच की समस्या तभी होती है जब पाचन ठीक से नहीं हो रहा होता है। यानी आपने जो खाया है Gas Ke Gharelu Upay उसे पचाने के बाद शरीर उसके सत्व (भोजन का रस) को अवशोषित नहीं कर पाता है।

या फिर किसी अन्य समस्या के कारण जूस और ठोस आहार अलग नहीं हो पाते हैं। Health tips अपच के दौरान आमतौर पर पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है। Health Care tips लेकिन ये इसका एकमात्र लक्षण नहीं है. अपच होने पर शरीर कई तरह से लक्षण दिखाता है।

Try these things to eat to avoid acidity - खाने की ये चीजें आजमाएं, एसिडिटी  जाएंगे भूल 1 , जीवन शैली न्यूज

अपच के लक्षण क्या हैं? Gas Ke Gharelu Upay
पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के अलावा अपच कई अन्य समस्याओं का कारण बन सकता है :-

पेट में जलन , पेट फूलना, पेट में भारीपन, जी मिचलाना, खट्टी डकारें आना।

Gas Ke Gharelu Upay – ज्यादा खाने की वजह से पेट में बन गई है गैस? तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

अपच के कारण क्या हैं? Gas Ke Gharelu Upay

अपच की समस्या आमतौर पर खान-पान से जुड़ी होती है। लेकिन यह जरूरी नहीं कि हमेशा ऐसा ही रहे, हमारी दिनचर्या से जुड़ी कई समस्याओं के कारण ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है

देर रात तक जागना, नींद की कमी, बहुत अधिक तनाव, विपरीत प्रकृति का भोजन एक साथ खाना, अधिक मसालेदार खाना खाना, बहुत अधिक तैलीय भोजन करना, धूम्रपान की आदत, शराब, गर्भावस्था के दौरान भी अपच की समस्या हो जाती है।

पेट की गैस के कारण और दूर करने के आसान घरेलू उपाय - Stomach Gas Home  treatment in Hindi

क्रोनिक अपच क्या है? Gas Ke Gharelu Upay

अपच न केवल साधारण बल्कि पुरानी अपच भी है। ऐसा किसी पुरानी बीमारी या शारीरिक समस्या के कारण हो सकता है। इस बारे में पूरी जानकारी मेडिकल जांच के बाद ही दी जा सकेगी। इसके लिए एक्स-रे, ब्लड टेस्ट, स्टूल टेस्ट आदि की मदद ली जाती है। बीमारी का कारण जानने के बाद इस स्थिति से निपटने के लिए दवाएं लेनी पड़ती हैं और खान-पान से जुड़ी कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ता है।

पेट में गैस बनने के 20 आयुर्वेदिक घरेलू उपचार - Pet Me Gas Ka Ayurvedic  Upchar In

अपच से बचने के उपाय क्या हैं? Gas Ke Gharelu Upay

  • अपच की समस्या से बचने के लिए सबसे पहले अपने खान-पान और जीवनशैली पर ध्यान दें। अगर आपको इन कारणों से अपच की समस्या हो रही है तो यह अपने आप ठीक हो जाएगी। अगर समस्या फिर भी बनी रहती है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। भूख लगने पर अधिक भोजन न करें। यानी स्वाद के चक्कर में ज्यादा खाने से बचें
  • अगर आपको अपच की समस्या है तो कोल्ड ड्रिंक और सॉफ्ट ड्रिंक से परहेज करें। छाछ, लस्सी, नींबू पानी और नारियल पानी जैसे देसी पेय पिएं। दूध और जूस का सेवन न करें।
  • बहुत ज्यादा डाइट वाले कपड़े न पहनें। अपच की भी समस्या होती है.
  • अगर आप बैठने का काम करते हैं तो हर 40 मिनट में कुर्सी से उठकर 5 मिनट तक टहलें या खड़े होकर काम करें।
  • खाना खाने के बाद कभी भी व्यायाम न करें। खाना खाने के कम से कम दो घंटे बाद दूध का सेवन करें।

”सेहत’‘ से जड़ी जानकारी के लिए हमारे पेज betultalks.com को फॉलों व शेयर अवश्‍य करें –

Milk Beauty Tips : क्या ठंडे दूध से दूर हो जाते हैं डार्क सर्कल, खिल उठेगा आपका चेहरा

Benefits Of Strawberry : इन बीमारियों में फायदेमंद है ये लाल फल, जानें इसके अनोखे फायदे