Hair Care : सर्दियों में झड़ने लगे हैं बाल तो इस तरह करे Hair Fall कंट्रोल… 

Hair Care : सर्दियों में बालों का झड़ना तेजी से बढ़ता है। इसका मुख्य कारण शुष्क और ठंडी सर्द हवाएँ हैं। यह हवा बालों की नमी को सोख लेती है, जिससे स्कैल्प रूखी हो जाती है और बाल कमजोर होकर झड़ने लगते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपाय हैं जिनका प्रयोग दादी-नानी और शायद माताएं भी करती रही हैं। ये प्राकृतिक तरीके बालों को पूरा पोषण देने के साथ बालों का झड़ना भी रोकते हैं। इन टिप्स के इस्तेमाल से कुछ ही दिनों में आपके बाल लहराते और चमकदार नजर आने लगेंगे। तो देर किस बात की और जल्दी से जानिए बालों का झड़ना कंट्रोल करने के उपायों के बारे में।

बाल झड़ने के आयुर्वेदिक उपाय

मेंथी
आयुर्वेद में मेथी का कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है। मेथी में पाया जाने वाला प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड बालों को झड़ने से रोकने में कारगर साबित होता है। यह बालों के रोम को मजबूत करता है और बालों के विकास में मदद करता है। मेथी का इस्तेमाल करने के लिए एक चम्मच मेथी के दानों को पानी में भिगोकर पीस लें। इसका पेस्ट बनाकर नारियल के तेल या नारियल के दूध में मिला लें। इस तैयार मिश्रण को बालों की जड़ों से लेकर सिरे तक लगाएं और आधे घंटे तक लगा रहने दें और फिर सिर धो लें। यह हेयर मास्क हर 15 दिन में एक बार लगाया जा सकता है।

मेंथी

आंवला
विटामिन सी से भरपूर आंवला बालों की कई समस्याओं को दूर करता है। इसे बालों में लगाने के लिए आंवले को सुखाकर पीस लें। 2 चम्मच आंवला पाउडर में बराबर मात्रा में नींबू का रस मिलाएं। आप चाहें तो आंवले के जूस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस मिश्रण को बालों में लगाएं और आधे घंटे बाद धो लें।

आंवला

नीम का पेड़
सर्दियों में बाल गिरने का एक कारण स्कैल्प पर जमी गंदगी भी होती है। इसे दूर करने के लिए नीम का इस्तेमाल किया जा सकता है। नीम स्कैल्प की अच्छी तरह से सफाई करता है और बालों की सतह से बैक्टीरिया को दूर करता है। इससे बाल टूटना भी बंद हो जाते हैं। नीम को लगाने के लिए इसे पीसकर हेयर मास्क की तरह लगाएं। आधे घंटे बाद बालों को शैंपू से धो लें। डैंड्रफ दूर करने के लिए भी इसे लगाया जा सकता है।

नीम का पेड़

मेंहदी
जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी गुणों वाली मेंहदी बालों के झड़ने को रोक सकती है। इसे लगाने पर बालों से अतिरिक्त तेल निकल जाता है और बालों को बढ़ने में भी मदद मिलती है। मेहंदी को पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें और आधे घंटे तक बालों में लगाकर धो लें। इस बात का ध्यान रखें कि आपको ज्यादा देर तक मेहंदी नहीं लगानी है, नहीं तो बालों पर लाली नजर आने लगती है।

अस्वीकरण: यह सामग्री केवल सलाह सहित सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से सलाह लें। बैतूल टॉक्स इस जानकारी की जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Source: Internet