Guru Nanak Jayanti 2023: जानिए क्यों मनाते हैं गुरु नानक जयंती, क्या है इसका महत्व?

Guru Nanak Jayanti 2023, Guru Nanak Jayanti , Guru Nanak Jayanti Kab Hai 2023, GuruPurab, Religion, Religion News In Hindi, Gurpurab Importance in Hindi 2023 Guru Nanak dev, Gurupurab, Festivals of India, Sikh religion,

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

Guru Nanak Jayanti 2023 : गुरुनानक जयंती हर साल कार्तिक मास की पूर्णिमा के दिन मनाई जाती है। इस वर्ष गुरु नानक जयंती 27 नवंबर 2023, सोमवार को है। पंचांग के अनुसार पूर्णिमा तिथि 26 नवंबर 2023 को दोपहर 03:53 बजे से शुरू होगी और कार्तिक पूर्णिमा तिथि 27 नवंबर 2023 को दोपहर 02:45 बजे तक रहेगी। उदयातिथि से लेकर 27 नवंबर को ही गुरुपर्व मनाया जाएगा. इस दिन देशभर में ही नहीं बल्कि कई विदेशी देशों में भी गुरुद्वारों को सजाया जाता है और बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां मत्था टेकने जाते हैं।

Guru Nanak Jayanti 2022 गुरुनानक जयंती का महत्व, guru-nanak-jayanti-2022-date-history-importance-significance-of-gurpurab-sacred-day

गुरु नानक जयंती का महत्व Guru Nanak Jayanti 2023

गुरु नानक जयंती, जिसे गुरु नानक देव जी की जयंती के रूप में मनाया जाता है, सिख धर्म के अनुयायियों के लिए एक महत्वपूर्ण त्योहार है। इसे ‘गुरुपर्व’ भी कहा जाता है, जिसे सिख समुदाय में विशेष अगरबत्ती और चावल के साथ मनाया जाता है। यह त्यौहार हर साल नवंबर या दिसंबर महीने में आता है, जिस दिन गुरु नानक देव जी का जन्मोत्सव होता है।

गुरु नानक जी का जन्म 1469 में हुआ था और वह सिख धर्म के पहले गुरु थे। गुरु नानक जी ने अपने जीवन में सत्य, न्याय, करुणा, सेवा और विश्व बंधुत्व की महत्वपूर्ण बातें सिखाईं। उन्होंने सच्ची मानवता और समाज में एकता, भाईचारे और सभी लोगों के साथ समझौते के महत्व का संदेश दिया।

गुरु नानक जी का जन्मदिन सिखों के लिए एक उत्सव का अवसर है, जिसमें उनकी बाणियाँ, उपदेश और कीर्तन किये जाते हैं। इस दिन सिख अपने गुरुद्वारों को सजाते हैं और विभिन्न साधना कार्यक्रम आयोजित करते हैं।

Guru Nanak Jayanti 2023: जानिए क्यों मनाते हैं गुरु नानक जयंती, क्या है इसका महत्व?

Guru Nanak Jayanti 2022: गुरू नानक देव थे सिख धर्म के संस्थापक और पहले गुरू, उनकी जयंती के दिन भेजें अपने दोस्तों को ये शुभ मैसेज - Guru Nanak Jayanti 2022 Guru

इस त्योहार का महत्व यह है कि यह सिख समुदाय की महान विरासत और आदर्शों का स्मरण कराता है और लोगों को उनकी शिक्षाओं का पालन करके अच्छे जीवन की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित किया जाता है। यह दिन सामाजिक और धार्मिक एकता का प्रतीक माना जाता है, जिसके कारण लोग अपने आध्यात्मिक और सामाजिक जीवन में सदाचार के लिए प्रतिबद्ध होते हैं।

तो इस साल गुरुपर्व के दिन आप भी गुरु नानक देव जी के बारे में और जानें और उनके द्वारा दी गई शिक्षाओं के बारे में अपने घर के बच्चों को भी बताएं.

(डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित है। betultalks.com इस बारे में किसी भी तरह की पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।)

Kartik Purnima 2023: कार्तिक पूर्णिमा पर इन राशि वालों को होगा फायदा, देखे

Neelam Ratna : लखपति से बन सकते हैं करोड़पति, धारण कर लें ये चमत्कारी रत्न

PMKSY – कब आ रही है अगली किस्त? किसान यहां जान सकते हैं लेटेस्ट अपडेट

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

Related Articles

Back to top button