Gujarat Exit Poll 2022: क्‍या गुजरात चुनाव में ‘वोटकटवा’ बनकर रह जाएंगे ओवैसी? जानिए क्या कहते हैं Exit Polls

Gujarat Exit Poll 2022 : गुजरात की जिन 182 सीटों के लिए एग्जिट पोल ने नतीजों की भविष्यवाणी की है, उनमें से ओवैसी की पार्टी ने भी 13 सीटों पर चुनाव लड़ा था। चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले ही ओवैसी गुजरात में लगातार रैलियां कर रहे थे. ओवैसी को उम्मीद थी कि बिहार की तरह वो गुजरात में भी कुछ सीटें जीत सकते हैं, लेकिन एग्जिट पोल के नतीजों के मुताबिक एआईएमआईएम को कोई सीट मिलने की संभावना नहीं है.

चुनावी राजनीति में जो भी गुंजाइश हो सकती थी, असदुद्दीन ओवैसी ने उसे तलाशने की भरसक कोशिश की. अभियान के दौरान प्रार्थना की, भीख मांगी, भीख मांगी, आंसू भी बहाए। लेकिन कुछ काम नहीं आया।

ओवैसी को लेकर हैरान करने वाली बात सामने आई
गुजरात एग्जिट पोल (Gujarat Exit Poll 2022) के नतीजों में AIMIM प्रमुख ओवैसी को लेकर एक चौंकाने वाली बात सामने आई है. ओवैसी ने गुजरात की 182 विधानसभा सीटों में से सिर्फ 13 पर अपने उम्मीदवार उतारे थे. बीजेपी विरोधी पार्टियां ओवैसी पर ‘वोट कटवा’ होने का आरोप लगाती रही हैं. अब एग्जिट पोल में इसे लेकर नतीजे भी आ गए हैं।

गुजरात में ओवैसी की पार्टी कितनी बड़ी बन गई?
टाइम्स नाउ नवभारत एग्जिट पोल (Gujarat Exit Poll 2022) के मुताबिक, जनता से पूछा गया कि ‘ओवैसी की पार्टी गुजरात में कितनी बड़ी फैक्टर बन गई है?’ चार विकल्प (वोटकतवा, मुस्लिम वोट सुरक्षित, संगठन स्टैंड वेल, कह नहीं सकते) दिए गए थे। सिर्फ 12 फीसदी लोगों ने कहा कि ओवैसी का संगठन बढ़ रहा है.

स्रोत- टाइम्स नाउ नवभारत एग्जिट पोल
गुजरात चुनाव में ओवैसी इतने बड़े फैक्टर हैं

वोटकटवा – 30 प्रतिशत

मुस्लिम वोट सुरक्षित – 22 फीसदी

स्थायी संगठन – 12 प्रतिशत

कह नहीं सकते – 36 प्रतिशत

30 फीसदी लोगों ने कहा- ओवैसी हैं ‘वोटकतवा’
एग्जिट पोल में चौंकाने वाली बात यह है कि 36 फीसदी लोगों ने कंफ्यूजन की स्थिति यानी ‘कह नहीं सकते’ दिखाया है. तो वहीं 30 फीसदी लोगों ने ओवैसी को ‘वोटकतवा’ कहा. 22 फीसदी लोगों ने कहा कि ओवैसी की पार्टी को मुस्लिम वोट मिले हैं. इसके साथ ही 12 फीसदी लोगों का मानना है कि उनका संगठन गुजरात में स्थापित हो रहा है.

वोट कटवा के सवाल पर क्या कहते हैं ओवैसी?
चुनाव के अलावा ओवैसी अक्सर ऐसे सवालों से जूझते नजर आते हैं कि क्या वह बीजेपी की ‘बी टीम’ हैं? हाल ही में मीडिया को दिए कई इंटरव्यू में ओवैसी ने ऐसे सवालों के जवाब दिए हैं। ओवैसी का कहना है कि वह अब से पहले गुजरात में चुनाव लड़ने नहीं आए तो कांग्रेस बीजेपी को क्यों नहीं हरा पाई?

Source: Internet