Chandrayaan-3 : आज चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा चंद्रयान-3

Chandrayaan-3 : भारत आज चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडिंग कर के इतिहास रचने को तैयार है. आज शाम 6:04 मिनट पर चंद्रयान-3 सॉफ्ट लैंडिंग करेगा. इसरो का चंदयान-3 क लैंडर मॉड्यूल आज चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड होगा. ये वो क्षण होगा जो भारत का नाम इतिहास में दर्ज करा देगा. दुनिया का कोई भी देश चांद के दक्षिणी ध्रुव पर अपना परचम नहीं लहरा सका है. चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान-3 के विक्रम लैंडर की सॉफ्ट लैंडिंग करने के बाद अमेरिका, चीन और रूस के बाद भारत चौधा देश होगा. इसरो के वैज्ञानिकों ने इसके लिए फुल प्रूफ प्लानिंग बनाई है. जिससे ये माना जा रहा है कि भारत इसमें 100 फीसदी कामयाब होगा.

Chandrayaan 3 Landing Live: चांद पर आज पड़ेंगे चंद्रयान-3 के कदम, लैंडिंग  का होगा सीधा प्रसारण, ISRO की तैयारी पूरी - Chandrayaan 3 landing live  update isro vikram lander soft moon landing

चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए छतरपुर के बागेश्वर धाम में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं और उनका कहना है कि भगवान ने चाहा तो हम आज इतिहास रच देंगे, जिस काम को पूरी दुनिया नहीं कर सकती वो भारतीय कर सकता है। चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए उत्तर प्रदेश के वाराणसी में साधुओं ने हवन किया ताकि भारत का मिशन मून सफल हो सके।

चंद्रयान-3 को लेकर इसरो के पूर्व निदेशक ने क्या कहा? चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग को लेकर इसरो के पूर्व निदेशक डॉ. सुरेंद्र पाल ने न्यूज एजेंसी को बताया, मुझे इसरो के वैज्ञानिकों की तरह ही विश्वास है कि हम बहुत बेहतर करेंगे क्योंकि चंद्रयान-2 की तुलना में बहुत सारे बदलाव किए गए हैं। बहुत सारे एल्गोरिदम बदले गए हैं। पूर्ण अंशांकन किया गया है। लैंडर में घूमने की क्षमता है। लैंडिंग क्षेत्र को 2.5 किमी. से बढ़ाकर 4 किमी. कर दिया गया है।

देश से बाहर भी चंद्रयान-3 के लिए प्रार्थना

चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए न्यू जर्सी के मोनरो में ओम श्री साईं बालाजी मंदिर और सांस्कृतिक केंद्र में प्रार्थना की गई है।

भारत का नाम इतिहास में होगा दर्ज

खगोलशास्त्री डॉ आर.सी. कपूर ने चंद्रयान-3 को लेकर कहा, दुनिया और विभिन्न अंतरिक्ष एजेंसियां चंद्रयान पर नजर रख रही हैं। इसरो दुनिया की सर्वश्रेष्ठ अंतरिक्ष एजेंसियों में से एक है। हमें उम्मीद है कि हम सॉफ्ट लैंडिंग में सफल होंगे। इसके साथ ही इसरो चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करने वाली चौथी एजेंसी बन जाएगी।

Chandrayaan 3 की लैंडिंग का बेसब्री से इंतजार; अगर हालात प्रतिकूल रहे तो चंद्रयान 3 की लैंडिंग…

Chandrayaan-3 के चांद पर उतरने की प्रक्रिया क्यों है ‘बेहद जटिल’?