Chandrayaan 3 : लैंडर से चंद्रमा की सतह पर कैसे उतरा प्रज्ञान रोवर? देखे वीडियो

Chandrayaan 3 : चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) के प्रज्ञान रोवर (Pragyaan Rover) का चांद की सतह पर उतरने का वीडियो सामने आया है. इसरो (ISRO) ने ये वीडियो जारी किया है. वीडियो में विक्रम लैंडर से उतरकर रोवर आगे बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है. इस वीडियो में चंद्रयान-3 की लैंडिंग के बाद लैंडर विक्रम से रोवर प्रज्ञान चांद की सतह पर उतरता हुआ दिख रहा है. रोवर प्रज्ञान पर तिरंगा लगा हुआ नजर आ रहा है. बता दें कि इतिहास रचने के बाद चंद्रयान-3 चांद की सतह पर मौजूद है और लगातार अपने मिशन को अंजाम दे रहा है. इसरो लगातार इससे जुड़े अपडेट्स शेयर कर रहा है जिसका आज एक वीडियो भी इसरो ने शेयर किया.

Chandrayaan 3: ISRO ने जारी किया चंद्रयान के प्रज्ञान रोवर का वीडियो

रोवर का चांद पर मूवमेंट
एक अन्य तस्वीर भी इसरो ने इससे पहले जारी की, जिसमें पहली बार चांद पर मौजूद लैंडर साफ नजर आ रहा है. दिलचस्प बात ये है कि ये तस्वीर और किसी ने नहीं बल्कि भारत के ही चंद्रयान 2 ने खींची है. तस्वीर में भारत की शान चंद्रयान-3 विक्रम लैंडर दिख रहा है. इसरो ने ये तस्वीर आज सुबह पोस्ट की और लिखा कि चंद्रयान 2 ने चंद्रयान 3 के लैंडर का फोटोशूट किया. चंद्रयान 2 ऑर्बिटर के हाई Resolution कैमरा ने लैंडिंग के बाद चंद्रयान 3 के लैंडर को स्पॉट किया. चंद्रयान 2 के ऑर्बिटर में लगा कैमरा चांद पर अभी मौजूद सबसे बेहतरीन कैमरा है.

चंद्रयान-2 खींच रहा फोटो
गौरतलब है कि चंद्रयान 2 भले ही 2019 में सॉफ्ट लैंडिंग करने में नाकाम रहा हो लेकिन उसका ऑर्बिटर अभी भी चांद के चक्कर लगा रहा है और लगातार डेटा भेज रहा है. इसी ऑर्बिटर ने चंद्रयान-3 को स्पॉट कर उसकी तस्वीर खींची जो कि इसरो ने शेयर की.

तस्वीरें और डिटेल भेज रहा रोवर
चंद्रयान-3 की लैंडिंग के बाद से रोवर फिलहाल सतह पर मूव कर रहा है और अपने मिशन को अंजाम दे रहा है. लैंडर और रोवर चांद की सतह पर उतरने के बाद अपने मिशन को अंजाम देने के लिए सौर्य ऊर्जा का इस्तेमाल कर रहे हैं. अब से लेकर 5 सितंबर के बीच दक्षिणी ध्रुव पर धूप निकली है. जिसकी मदद से चंद्रयान का रोवर चार्ज हो पा रहा है और अपने मिशन को अंजाम दे रहा है और लगातार तस्वीरें और डिटेल भी भेज रहा है.

ISRO कर रहा मंगल-शुक्रयान और NISAR की तैयारी, देखे पूरी खबर..

Chandrayaan-3 : क्या धरती पर लौटेगा चंद्रयान-3?