Business idea : कम पैसों में शुरू करें ये बिजनेस, हर घर में रहती है डिमांड, जानिए कितना होगा मुनाफा

Business idea : देश के सभी घरों में आपको कोई न कोई प्रोडक्ट जरूर देखने को मिल जाएगा। इसका नाम है बेसन, जिससे मीठे लड्डू भी बनते हैं और फाफड़ा, सेव समेत कई नमकीन भी बनते हैं. हर घर के किचन में बेसन से जुड़ी कोई न कोई डिश बनती ही है.

ऐसे में आप चाहें तो बेसन मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस कर सकते हैं। कई लोग बेसन का इस्तेमाल रोटी या चीला बनाने में भी करते हैं. ऐसे में बेसन बनाने का बिजनेस आइडिया काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. आइए जानते हैं कैसे करें बेसन का बिजनेस (How To Start Besan Manufacturing Business) और साथ ही समझें इसमें लागत-लाभ का पूरा गणित.

बेसन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

बेसन बनाने के लिए आपको सबसे पहले बिजनेस में ढेर सारे चने की जरूरत पड़ेगी. इसे आपको पीसना है जिससे बेसन बन जायेगा. अगर आप चने को पीसने से पहले उसका छिलका अलग कर लेंगे तो बाद में बेसन को छानने की जरूरत नहीं पड़ेगी और गुणवत्ता भी बेहतर होगी. पीसने के लिए आपको आटा चक्की की आवश्यकता होगी। बेसन निर्माण में इस आटा चक्की की सबसे बड़ी भूमिका है।

जब बेसन पिस कर बाहर आ जाए तो आपको इसे पैक करना है। आप जिस भी तरह के पैकेज में बेसन बेचना चाहते हैं, उसे पैक करके दुकानों पर सप्लाई कर सकते हैं. इस बिजनेस में आपको केवल यह ध्यान रखना होता है कि आपके उत्पाद की कीमत कितनी होगी, क्योंकि बेसन की कंपनियां पहले से ही बाजार में मौजूद हैं.

अगर आप ब्रांडिंग पर फोकस करेंगे तो कॉम्पिटिशन से लड़ना आसान हो जाएगा।

बेसन बनाने के बिजनेस में आपको ब्रांडिंग पर ध्यान देने की जरूरत है। कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच अपने व्यवसाय का निर्माण करना आवश्यक है। प्रत्येक पैकेट पर अपने ब्रांड का अच्छी तरह से वर्णन करें। अगर आप ब्रांडिंग पर फोकस करेंगे तो कॉम्पिटिशन से लड़ना आसान हो जाएगा।

कितनी लागत, कितना मुनाफा?

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) की प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक बेसन बनाने के बिजनेस में आपको करीब 6 लाख रुपए का पूंजीगत खर्च करना होगा। इसमें 1500 वर्ग फुट में शेड बनाने के लिए 3 लाख रुपये की आवश्यकता होगी, जबकि 3 लाख रुपये की मशीनें लेनी होंगी. इन मशीनों में आटा चक्की, चूरा, बर्तन, तोलने की मशीन आदि होंगी। इसके अलावा कार्यशील पूंजी पर करीब 1.8 लाख रुपये खर्च होंगे।

वहीं कच्चे माल के लिए 1 लाख, पैकेजिंग में 50 हजार, वेतन पर करीब 3 लाख और अन्य खर्च पर 1 लाख रुपये खर्च करने होंगे। इस व्यवसाय में आपको 1.89 लाख रुपये की निश्चित लागत और 5.29 लाख रुपये की परिवर्तनीय लागत लगेगी। यानी आपको कुल 7.18 लाख रुपये का निवेश करना होगा। जबकि आपकी अनुमानित बिक्री करीब 9.33 लाख रुपये होगी। इस बिजनेस में आपको करीब 2.15 लाख रुपये का ग्रॉस प्रॉफिट होगा, जबकि 1.70 लाख रुपये का नेट प्रॉफिट होगा।