Betul News – ग्राम जामुनढाना में नदी पर पुल नही बनने से ग्रामीण करेंगे विधानसभा चुनाव का बहिस्कार

बैतूल टॉक्स / शाहपुर : ब्लॉक के पावरझंडा ग्राम पंचायत में आने वाला ग्राम जामुनढाना में इस वर्ष भी ग्रामीणों को ग्राम पहुंचने में पड़ने वाली नदी पर पुल स्वीकृत होने के बाद भी पुल का निर्माण नहीं होने से इस वर्ष भी जामुन ढाना के ग्रामीणों को ग्राम पहुंचने में पड़ने वाली नदी की बाढ़ से परेशानियों का सामना करना पड़ेगा । आजादी के बाद से आज भी यह ग्राम मूल भूत सुविधाओं से पिछड़ा हैं । वर्षा काल के समय यह ग्राम टापू बन जाने वाला यह ग्राम जामुन ढाना ही है । जो पिछले वर्षा काल के समय में ग्राम की एक महिला को प्रसव के समय स्वास्थ्य केंद्र लाने के लिए गर्भवती महिला को नदी में उफनती बाढ़ में गांव के लोगो द्वारा अपनी जान जोखिम में डालकर उफनती नदी

  • खटिया पर पार कराया थी ।
  • जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ था ।
  • मंडल अध्यक्ष मनीष कुमरे ग्राम पावर झंडा में रहते ही हैं जिससे इस ग्राम की दूरी मात्र तीन किलोमीटर है ।
  • अपनी सरकार के रहते स्वीकृत पुल का कार्य चालू नही कर सके मंडल अध्यक्ष ।

बीते पंचायत चुनाव में मंडल अध्यक्ष की पत्नी मनीषा कुमरे इसी जनपद क्षेत्र से चुनाव जीती थी । वर्ष 2022 , 23 के पंचायत चुनाव में मंडल अध्यक्ष की पत्नी मनीषा कुमरे को ग्राम रायपुर की वर्षा मर्शकोले ने भारी मतों से पराजित कर अपनी जीत दर्ज कराई । चुनाव प्रचार के दौरान मंडल अध्यक्ष ने अपनी पत्नी का चुनाव प्रचार जोर शोर से किया था । लेकिन उनकी लाचर कार्यशैली के चलते ग्राम वासियों ने उन्हें नकार दिया । जिससे चुनाव हार का सामना करना पड़ा । चुनाव हारने से मंडल अध्यक्ष मनीष कुमरे की कार्यशैली और जनता में पैठ साफ नजर आ रही है की जनता मंडल अध्यक्ष पर भरोसा नहीं कर रही है जामुनढाना ग्राम की महिला का प्रसव कराने खाट पर उफनते नाला पार कराने की खबर इस खबर को प्राथमिकता से प्रकाशित किया था । जिसके बाद जिला कलेक्टर ने संज्ञान में लेकर ग्राम पंचायत पावरझंडा के। जामुन ढाना के ग्रामीणों की सुविधा के लिए एक पुल स्वीकृत किया था । ग्राम की नदी में पूरा साल बीत जाने के बाद पुल निर्माण नही हो सका और न ही निर्माण कार्य की आधार शिला रखी गई । उल्लेखनीय हाेकी

भाजपा की विकास यात्रा को गांव के बाहर ही डेढ़ घंटे तक रोक लिया था । यात्रा में उपस्थित अधिकारियों द्वारा पुल निर्माण का आश्वासन भी दिया था । लेकिन मंडल अध्यक्ष पुल का काम चालू नही करा पाए। अधिकारियों द्वारा ग्रामीणों को
विगत 25 मार्च तक में ही पुल का निर्माण कार्य चालू कर दिया जाएगा पर आज दिनांक तक भी पुल नही निर्माण हो पाया है । वही बेटे बेटियों की शादी ग्रामीण अंचलों में शुरू हो गई है जामुन ढाना के ग्रामीण सूरज कवड़े ने बताया कि ग्राम जामुनढाना के एक परिवार में शनिवार 29 अप्रैल को एक बेटी की शादी आमला ब्लॉक में हुई थी ।

उसी बेटी की ससुराल आमला से पहली बिदाई कर मायके तरफ से जामुनढाना गांव के लोग 1 मई दिन सोमवार लड़की की लिवाई लेने गए थे । सोमवार को हुई तेज वर्षा से गांव की नदी में बाढ़ आ गई । घुटने घुटने पानी में नदी पार करना पड़ा । जामुन ढाना के ग्रामीणों में गुस्सा पनप रहा है । ग्रामीणों का कहना है कि पुल का निर्माण आश्वासन नहीं पुल बनना चाहिए इस वर्ष वर्षा काल के पहले पुल का निर्माण नही किया जाएगा तो ग्रामीण जन आने वाले विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे । गांव में किसी नेता जनप्रतिनिधि को प्रवेश नहीं करने देंगे । ग्रामीणों का बड़ा फैसला, सूरज कवड़े पंच, दीपक कवडे ,मनीष टेकाम ,वलबंत कवडे , विमल उईके पंच ,अनिता बाई टेकाम पंच , हीरामणि टेकाम पंच ,प्रेमकली बाई कवडे पंच ने कही ।