Benefits of Tulsi : तुलसी के पत्तों में होते हैं औषधीय गुण, जाने फायदे

Benefits of Tulsi : वर्तमान समय में भागदौड़ भरी जिवन के चलते छोटी आयु में ही लोगों को कई तरह की बीमारियां घेरने लगी हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल से जुडे मामले भी काफी बढ़ गए हैं जो कि दिल की स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही हानिप्रद है, ऐसे में तुलसी के पत्ते का सेवन बहुत कारगर साबित हो सकता है। Benefits of Tulsi तुलसी का पौधा धार्मिक रूप से भी काफी महत्वपूर्ण होने के साथ ही सेहत के लिहाज से भी काफी उपयोगी होता है। तुलसी के पौधे में मौजूद तत्व कई बड़ी बीमारियों में असरदार होते हैं, दिल से जुडी बीमारियों में तुलसी बेहद फायदेमंद हो सकता है। तुलसी के पत्तों का उपयोग स्ट्रेस और एंजाइटी को घटाने में भी मदद करता है जानकारी के अनुसार तुलसी इंफेक्शन से बचाने के साथ ही घावों को ट्रीट करने में भी मददगार होती है।

सुबह खाली पेट खाएं Tulsi के पत्ते, सेहत को होंगे फायदे ही फायदे - lifestyle  benefits of eating tulsi or basil leaves in morning on empty stomach -  Navbharat Times

आइए जानते हैं तुलसी के सेहत से जुड़े बड़े फायदे – Benefits of Tulsi

तुलसी के पत्तों के बड़े फायदे

1. ब्लड शुगर – वर्तमान में बदलती लाइफ स्टाइल के चलते डायबिटीज (शुगर) की बीमारी बहुत कॉमन हो चुकी है। ब्लड शुगर का बढ़ना या घटना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत खतरनाक हो सकता है, Tulsi ऐसे में अत्‍यंत आवयश्‍यक है कि ब्लड शुगर हमेशा नियंत्रण में रहे। इसके लिए तुलसी का पौधा बेहद असरदार होता है, प्री डायबिटीज या टाइप टू डायबिटीज की स्थिति में तुलसी का सेवन ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है।

पोस्ट-प्रैंडियल ब्लड शुगर (पीपीबीएस): यह क्या है, सामान्य सीमा और कुछ  महत्वपूर्ण जानकारियां - MyHealth

2. कोलेस्ट्रॉल – हृदय की नसों में जमा बैड कोलेस्ट्रॉल हार्ट के लिए बहतु हानिकारक होता है। ऐसे में जरूरी है कि खराब कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम किया जाए। इसके लिए तुलसी का सेवन काफी असरदार हो सकता है, एनिमल स्टडीज के दौरान ये पाया गया है, कि तुलसी के सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल को घटाने में मदद मिलती है, इसके साथ ही तुलसी का तेल भी काफी लाभदायक होता है।

Benefits of Tulsi : तुलसी के पत्तों में होते हैं औषधीय गुण, जाने फायदे

कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय | Home Remedies for High Cholesterol in  Hindi

3. ज्वाइंट पैन बडती उम्र के साथ जोड़ों में दर्द होना आम समस्या हो जाती है। हड्डियों से जुड़ी गंभीर बीमारी अर्थराइटिस भी काफी  दर्दनाक होती है। ऐसे में जोड़ों के दर्द को घटाने और सूजन में आराम के लिए तुलसी का सेवन लाभकारी होता है। तुलसी के पत्तों में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण पाए जाते हैं, जिसके चलते जोड़ों से जुड़ी समस्याएं होने पर तुलसी काफी असरदार होती है।

जोड़ों का दर्द - जानिए कारण और उपचार | पंकजकस्तूरी

4. पेट पेट की समस्याएं बेहद सामान्‍य हैं और लंबे वक्त तक पेट से जुड़ी समस्याएं रहने पर कई गंभीर बीमारियां भी पैदा हो सकती हैं। तुलसी पेट के अल्सर से होने वाले स्ट्रेस में आराम देती है। इसके साथ ही इसका नियमित सेवन पेट के एसिड को कम करनात है, और म्यूकस सिक्रेशन को बढ़ाता है, इससे म्यूकस सेल में भी इजाफा होता है।

effective home remedies to get rid of stomach pain and inflammation in  hindi pet ki jalan theek karne k upay - पेट के दर्द और जलन को दूर करने के  लिए अपनाएं

5. संक्रमण तुलसी के पत्तों का सत्व चोट लगने पर घाव को तेजी से भरने में मदद करता है। इसके साथ ही शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी इजाफा करता है, तुलसी में एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल, एंटी फंगल, एंटी इन्फ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण पाए जाते हैं, ऐसे में इसका नियमित इस्तेमाल काफी लाभकारी हो सकता है।

कोरोना संक्रमण: उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 1183 लोग संक्रमित मिले, 15  मरीजों की मौत - Coronavirus In Uttarakhand Covid-19 News Today 04 February:  Positive Patients Update - Amar Ujala ...

“सेहत” से जुडी जानकारी के लिए हमारे पेज betultalks.com को फॉलों करें –

Breakfast : भूल कर भी ब्रेकफास्ट करना न भूले, हो सकता है इन बीमारियों का खतरा

Skin Care Tips : झुर्रियों से मुक्त त्वचा पाने के लिए घरेलू उपचार